Chhattisgarh News : IPL में सट्टा खिलाते मुख्य सटोरिया सहित 4 गिरफ्तार:2 लैपटॉप, 8 मोबाइल, दो सिम कार्ड सहित लाखों का हिसाब-किताब जब्त

0
53

Chhattisgarh News : पुलिस ने IPL सट्टा खिलाने वाले मुख्य सटोरिया राहुल अग्रवाल सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी क्रिकेट लाइन गुरु नामक ऐप से भाव पता करके सट्टा खिलाते थे। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 2 लैपटॉप, 8 मोबाइल और 2 सिम कार्ड सहित लाखों रुपए का हिसाब जब्त किया है। मामला सक्ती थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस को काफी समय से क्षेत्र मे क्रिकेट सट्टा खिलाए जाने की जानकारी मिल रही थी। गुरुवार को थाना प्रभारी को सूचना मिली कि नगरदा निवासी दूजराम अपने मोबाइल से ऑनलाइन IPL में सट्टा खिला रहा है, जो अभी सोंठी आया हुआ है। सूचना पर पुलिस ने छापामार कार्रवाई की और दूजराम को हिरासत मे लिया।

सट्टा लेकर खईवाली का काम

पूछताछ मे दूजराम ने बताया कि वह सोंठी निवासी विमल दास के अंडर में काम करता है, जो उससे सट्टा लेकर खईवाली का काम करता है। इसके बाद पुलिस ने विमल दास के ठिकाने पर छापामार कार्रवाई की। पूछताछ में विमल दास ने खुलासा किया कि सोंठी निवासी शिवम दास बड़ा सट्टा रैकेट चलाता है।

कोरबा से ऑनलाइन सट्टा खिलाते रंगेहाथ गिरफ्तार

विमल ने बताया कि शिवम दास कोरबा मे किराए का मकान लेकर वही से ऑनलाइन सट्टा का कारोबार कर रहा है। इसपर पुलिस की एक टीम कोरबा रवाना हुई और कोरबा के शारदा विहार के एक मकान में शिवम दास को IPL के दौरान फोन और लैपटॉप से ऑनलाइन सट्टा खिलाते रंगे हाथों पकड़ा।

राहुल अग्रवाल के लिए बुकी का काम

पूछताछ में शिवम दास ने बताया कि वह सक्ती निवासी राहुल अग्रवाल के लिए बुकी का काम करता है और उसी के दिए फोन और लैपटॉप पर मैच के दौरान पूरे मैच और सेशन अनुसार दांव लगाया है। जिसका हिसाब-किताब वह राहुल अग्रवाल को उसके फोन पर भेज देता है। पुलिस ने शिवम दास के पास से वो मोबाइल भी जब्त कर लिया जिससे वह राहुल अग्रवाल को हिसाब भेजता था।

पुलिस ने बताया कि उस मोबाइल में बिना सिम के वाईफाई के माध्यम से व्हाट्सएप चलाया जा रहा था। शिवम दास के बयान के आधार पर पुलिस ने राहुल अग्रवाल को हिरासत में लिया। राहुल अग्रवाल के कब्जे से पुलिस ने 8 मोबाइल, 2 लैपटॉप और हिसाब किताब के काफी पर्चे जब्त किए।

आरोपियों के बैंक अकाउंट की जांच हो रही

सक्ती एसडीओपी मनीष कुंवर ने बताया कि सभी आरोपियों के बैंक अकाउंट की जांच की जा रही है। जब्त किए गए मोबाइल और लैपटॉप की भी जांच की जा रही है। इसमें और जो भी शामिल होगा उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया है, जहां से सभी आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है।

अवैध प्लॉटिंग, आय से अधिक संपत्ति, छेड़छाड़, सट्टा सहित कई आरोप

मुख्य सटोरिया राहुल अग्रवाल पर पहले भी कई आरोप लगे हैं। राहुल पर अवैध प्लॉटिंग, छेड़छाड़, आय से अधिक संपत्ति और सट्टा के मामले के आरोप लग चुके हैं। नगर पालिका सक्ती ने अवैध प्लॉटिंग करने की वजह से राहुल के खिलाफ FIR दर्ज करने के लिए थाना प्रभारी को पत्र भी लिखा था। लेकिन पुलिस ने आज तक किसी पत्र पर कार्रवाई नहीं की।

आयकर विभाग ने की थी कार्रवाई

बता दें कि मुख्य सटोरिया राहुल अग्रवाल के यहां पूर्व में IT की टीम ने छापामार कार्रवाई की थी। कार्रवाई मे IT अधिकारियों को बड़े पैमाने पर सट्टा खिलाने की जानकारी मिली थी। वहीं कार्रवाई के बाद IT ने सक्ती थाना प्रभारी को FIR दर्ज करने के लिए पत्र भी लिखा था। लेकिन पुलिस ने आज तक उस मामले में FIR दर्ज नहीं की।

पत्रकारिता व राजनीतिक रसूख की आड़ मे बचता रहा

मुख्य सटोरिया राहुल अग्रवाल पर पूर्व मे भी कई सारे मामले दर्ज हो चुके हैं। लेकिन वह हमेशा अपने राजनीतिक रसूख के कारण खुद को बचाने में सफल रहा। IT की कार्यवाही के बाद राहुल के ऊपर पत्रकारों की नजर पड़ी। जिससे बचने के लिए राहुल ने खुद का वेब न्यूज पोर्टल बनवा लिया और पत्रकारिता की आड़ मे सट्टा के कारोबार को चलाता रहा।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here